अध्याय 9 : पुनरारम्भ - लाल आत्माएं - (एक लंबी कविता) - मेई वान फान - अंग्रेजी से हिंदी अनुवाद : नीता पोरवाल / Chương IX: Kết nối. Trường ca Những linh hồn thẫm đỏ. Mai Văn Phấn. Neetta Porwal dịch từ tiếng Anh sang tiếng Hin-đi

मेई वान फान

अंग्रेजी से हिंदी अनुवाद : नीता पोरवाल

Mai Văn Phấn

Translated from English into Hindi by Neetta Porwal

Neetta Porwal dịch từ tiếng Anh sang tiếng Hin-đi

 

 

 

Neetta Porwal, poet & translator

 

 

 

Logo của Nhà xuất bản Hind Yugm

 

 

  

लाल आत्माएं

(एक लंबी कविता)

 

 

 

अध्याय 9

पुनरारम्भ

 

 

पानी अब अपने पूर्वजों की आत्मा तृप्त करते हुए और भूमि की पवित्रता बनाये रखते हुए बहने लगा है| लोग विविध रंगों के संगम में जुड़ने लगे हैं, रंग जो तलछट की गाद और भावनाओं से अवरुद्ध हो उठते हुए ज्वार में विलीन हो गये थे|

 

नया प्रवाह अब प्रजनन, अंडे देने और बीजारोपण के लिए ऋतुओं को फिर से नई ऊर्जा दे रहा है। लाल रक्त भ्रूण को पोषित करता है, फूलों के खिलने के लिए बीजों की परवरिश करता है और प्रजनन के लिए जानवरों के झुण्ड को आकर्षित करता है।

 

आध्यात्मिकता और सूक्ष्म-विद्युतीय सर्किट। Ch'i और आध्यात्मिक सॉफ्टवेयर आर्किटेक्चर के मार्ग। मूर्त और अमूर्त वस्तुओं का संरचित और असंरचित डाटा। इंसान, जीव-जन्तु और वनस्पतियां काल क्रमानुसार और समकालीन समय में परस्पर जुड़ रहे हैं।

 

तथ्यों-घटनाओं की आत्मा विघटित होने की प्रतीक्षा कर रही है और समकालीन लोगों से बहुत लंबे समय के लिए एक स्थान पर संकोच या गड़बड़ करने का आग्रह करती है मानव इंटरफेस विंडोज में कुछ व्यक्तित्व दिखाई देते हैं क्योंकि वे पुनर्जन्म लेकर जी उठे हैं, इस बार उन्होंने दूसरे मूल्यों को चुना है। दूसरा मार्ग। दूसरा दर्शन। दूसरी मूर्तियाँ। दूसरे मॉडल। दूसरा स्वावलम्बन। दूसरी स्वतंत्रता। दूसरी खुशी। दूसरी भावनाएं।

 

एक क्राइसोपोगोन फूल, जो लंबे समय से खामोश था, अब स्क्रीन के बाएं कोने पर नजर आता है। यह वायरस द्वारा संक्रमित ofa कंप्यूटर की चेतावनी संकेत की तरह एक वाक्य बार-बार दोहराता है: हम अराजकता के दौर से गुजर चुके हैं!’ यह बात लोगों को क्रोधित या स्तब्ध नहीं करती, क्योंकि अब वे सब जानते हैं कि वे सिर्फ बुनियादी कच्चे माल नहीं हैं।

 

अज्ञात क्राइसोपोगोन फूल ने शतरंज के मुहरों को शिकस्त देते हुए दूरगामी प्रभाव पैदा किया है, है। अनजान चेहरे वाला एक इंसान आखिरकार खड़ा होता है और स्वीकार करता है कि वह एक कुंद चाकू से ज्यादा नहीं था। दूसरा, तीसरा और चौथा चेहरा जवाबदेही के लिए खड़ा होता है। स्वीकारोक्ति करने वाले चेहरों की गिनती, बढ़ती जाती है मानो सेना अपरिमित फैलती जा रही थी। लोगों ने स्वीकार किया कि वे या तो सफाई का एक कपड़ा, एक फटीचर झाड़ू, कचरे का डिब्बा, जिल्द उधड़ी एक किताब, टूटी हुई कुर्सी या लोहे की जाली रहे। उन्होंने स्वीकार किया कि वे फटा कंबल, खो गयी जोड़ी वाला जूता, पुराने फैशन के कपड़े, या धूल से ढके एक पुराने प्लास्टिक का कंटेनर रहे। अब सभी रैली स्थल पर वर्गीकृत होने, नष्ट होने या अपने पुनर्जन्म की प्रतीक्षा करते हुए स्वेच्छा से आते हैं।

 

सहेजी गयीं फ़ाइल कब्र की तरह एक-एक कर नजर आतीं हैं। वे बड़े प्रयास से सुसज्जित कब्रों की तरह रखीं गयीं थीं और यहां तक कि एक बार परित्यक्त भी कर दी गयीं थीं। व्यस्त स्क्रीन, एक ग्रेव विजिटिंग फेस्टिवल के दिन की तरह चढ़ावे और धूपबत्ती के धुएं से भरी हुई है। पूर्व सहकारी अध्यक्ष फिर से दिखाई देते हैं और पैगंबर, सलाहकार टीम और सफेद पुते चेहरे वाले अभिनेताओं को एक साथ देखकर अचम्भित होते हैं| सियासी पुरोधा दोनों मोर्चों के सैनिकों से मिलते हैं। एकान्त कारावास के ताले केवल मृत्युदंड पाए कैदियों के लिए खोले जाते हैं।

 

यहां तक कि कच्चे मांस का एक टुकड़ा भी पक्षियों के घोंसले, चूहों के साम्राज्य, और संकरी नदी के तल के बारे में जानता है। मांस का टुकड़ा ख़ुशी से दोबारा दीवार के निचले सिरे पर गंधाते हुए छेद की ओर देखता है। अचानक तभी स्क्रीन पर दूसरा पहलू नजर आता है और यादों के कक्ष में एक दरवाजा खुलता है क्योंकि यह दुर्लभ और कीमती दस्तावेजों को पढ़ सकता है जिसमें से बहुत कुछ अभी तक समझ से परे थे। ततैया अब एक स्रोत है, कमजोरी का एक घातक बिंदु है और मास्टर कुंजी अपने पास रखता है।

 

धंसी आत्माएं विश्व व्यापी मीनारों, बूचड़खानों, और अपशिष्ट संयंत्रों के धुएं के ढेर से निकलने के लिए संघर्ष करती हैं। वे अतृप्त विचारों और इच्छाओं को अपने साथ लिए होतीं हैं। तभी समय से पहले बारिश शुरू हो जाती है। आत्मा  मातृभूमि पर पड़तीं साफ पानी की हरेक बूंद में मिलने के लिए लपकते हुए आगे बढ़ती है। बारिश की बूंदें लोगों के सपनों में उम्मीद जगाती हैं, पौधों को नहलाकर साफ करती हैं, और पूरे इलाके के लिए फब्बारे का काम करती हैं।

 

बाड़ के समीप पॉलीगोनम, कोमेलाइना, फर्न के साथ रुके हुए पानी पर रास्बोरस नाम की मछली और मच्छरों का लार्वा भी अचानक चमक उठा है. वे आजादी और अपनी प्रतिष्ठा बनाये रखना चाहते हैं। वे दूरगामी दृष्टि, प्रचंड साहस, बहादुरी पाने के लिए पुराने पेड़ों और जंगली जानवरों से जुड़ते हैं।

 

वे अपने शरीर और आत्मा को नवीन ऊर्जा से भरने के लिए उकाब की वैभवशाली और दर्दनाक जीवनशैली से सीख लेते हैं। जब उकाब ऊंचाई पर और दूर तक उड़ान भरने में सक्षम नहीं होता तो वह अपनी चोंच को चट्टान से तब तक टकराता है जब तक वह नई शक्ति दोबारा नहीं पा लेता। वह बिना पलक झपकाए सीधे सूर्य में देखने की हिम्मत करता है और अंधे होने से भी नही डरता।

 

उकाब तूफान का इंतजार करता हुआ पहाड़ की चोटी तक उड़ान भरता है। उद्दंड तूफानी हवाएं उकाब को बादलों के ऊपर उठा लेती हैं पर वैभवशाली और पवित्र प्रतीक बनाते हुए उकाब अपने शक्तिशाली पंजों से तूफान के कंधे को काबू कर लेता है।



- नीता पोरवाल द्वारा Nhat-Lang Le द्वारा किये गये अंग्रेजी से हिंदी में अनूदित
9\6\2019

 

 

 

 

मेई वॉन फान (Mai Văn Phấn) 

 

वियतनाम के विशिष्ट कवि मेई वॉन फान का जन्म 1955 में उत्तर वियतनाम के रेड रिवर डेल्टा, निन्ह बिन्ह में हुआ। वर्तमान में आपहेई फांग शहर में रहते हुए काव्य सृजन कर रहे हैं। आपने कई वियतनामी और अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक पुरस्कार अर्जित किये हैं,जिसमें 2010 में वियतनाम राइटर्स एसोसिएशन अवार्ड और 2017 में स्वीडन का साइकडा साहित्यिक पुरस्कार शामिल हैं। मेई वानफान अपनी मातृ भाषा में लिखते हैं। आपकी 16 काव्य पुस्तकें और 1 पुस्तक "क्रिटिक्स निबंध" पर प्रकाशित हो चुकीं हैं। आपकीकविताओं का 25 भाषाओं में अनुवाद हो चुका है वे भाषाएँ हैं : अंग्रेजी, फ्रेंच, रूसी, स्पेनिश, जर्मन, स्वीडिश, डच, अल्बानियाई,सर्बियाई, मैसेडोनियन, मोंटेनेग्रिन, स्लोवाक, रुमानियाई, तुर्की, उज़्बेक, कज़ाख, अरबी, चीनी, जापानी , कोरियाई, इंडोनेशियाई,थाई, नेपाली, हिंदी और बंगाली (भारत)

 

 

 

नीता पोरवाल (Neetta Porwal)

 

नीता पोरवाल (15 जुलाई 1970) का जन्म उत्तर प्रेदश के अलीगढ़ शहर में हुआ| आगरा विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में परास्नातकऔर फिर बी. एड. की उपाधि लेने के बाद आप अध्यापन करने लगीं| आप एक कवि और कथाकार होने के साथ अनुवादक भी हैं|बांगला बाउल गीतों और रवीन्द्रनाथ टैगोर की कविताओं के साथ-साथ देश-विदेश के अनेक कवियों और कथाकारों की रचनाओं कोआप हिंदी में रूपांतरित कर चुकीं हैं| बतौर अनुवादक विगत कई वर्षों तक कृत्या पत्रिका के साथ जुड़ीं रहीं| 2018 में चीनीकविताओं कासौ बरस सौ कविताएँ (चीन की कविताओं में आधुनिकवाद)’ नामक चीनी कविता संग्रह आया जिसके लिए उनकीटीम को चीनी साहित्य के अनुवाद के लिए DJS Translation Award  प्राप्त हुआ है|

 

 

 

 

English version: Era of Junk

Vietnamese version: “Thời tái chế”

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


BÀI KHÁC
1 2 3 




























Thiết kế bởi VNPT | Quản trị