अध्याय 5 : कसाई - लाल आत्माएं - (एक लंबी कविता) - मेई वान फान - अंग्रेजी से हिंदी अनुवाद : नीता पोरवाल / Chương V: Đồ tể. Trường ca Những linh hồn thẫm đỏ. Mai Văn Phấn. Neetta Porwal dịch từ tiếng Anh sang tiếng Hin-đi

मेई वान फान

अंग्रेजी से हिंदी अनुवाद : नीता पोरवाल

Mai Văn Phấn

Translated from English into Hindi by Neetta Porwal

Neetta Porwal dịch từ tiếng Anh sang tiếng Hin-đi

 

 

 

Neetta Porwal, poet & translator

 

 

 

लाल आत्माएं

(एक लंबी कविता)

 

 

 

अध्याय 5

कसाई

 

 

कसाई

 

वह अभी जिन्दा है, लेकिन नर्क की लपटें उसके चेहरे तक पहुँच गयी है। वह माफ़ी मांगते हुए अपना सिर झुकाता है, लेकिन बहुत देर हो चुकी है। जीवन रक्त जो उसके हाथों से बह गया था, अब एक विशाल जानवर में बदल गया है उससे कसकर चिपट गया है वह भयावह जानवर उसकी मज्जा चूस रहा है। तभी वह जानवर अचानक उसे नीचे छोड़ देता है। वह उसके चेहरे पर ठोकर मारता है और जमीन पर पटकता है, वह उसी दृश्य को फिर से दोहराता है जब पहले उसने किसी जानवर की हत्या की थी: जानवर की आँखे ऊपर की ओर टंग गयीं थीं और रक्तिम हो गयीं थीं, क्योंकि उसके सिर को कसाई के हथौड़े ने बहुत निर्दयता से कुचला था।

 

जानवर के हाथ-पाँव खिंच कर लम्बे हो गये हैं, उबलते हुए पानी की बाल्टी के सामने काँप रहे हैं, उसके शरीर का हर अंग सख्त हो गया है. कसाई अपने पैने  गँड़ासे को जमीन पर तब तक घिसता है जब तक उसके चमकीले सफ़ेद छिद्र दिखने नही लगते. जानवर का सर कटकर एक ओर ढुलक गया है. कंधे, पसलियों और टांग से ऊतकों को बड़े तरीके से अलग किया जाता है। तभी कसाई गिर जाता है। उसकी अभिव्यक्तिहीन आँखें बाहर निकल जाती हैं, स्थिर हो जाती हैं, मानो मरे हुए जानवरों की आत्माओं पर किये गये अपने अत्याचार को उसने स्वीकार कर लिया है। यह कसाइयों द्वारा काटने वाली एक दुनिया है, एक निष्पक्ष खेल है। यह एक निशुल्क अदालत है, जहां निष्पक्ष निर्णय दिए जाते हैं।

 

 

 

 

कसाई 2

 

सपाट चेहरों वाले कसाई हर जगह मौजूद हैं- वे रसोई, बगीचों, बाजारों, फेरी वालों की गाड़ियों, रेस्तरां, चरागाहों में फैले हुए हैं, वे हर जगह फैलते गये, शुरुआती समय से जब इंसान ने प्रजनन के लिए और बीज बोने के लिए पहला स्टॉक चुना तब साथ ही साथ वे रोगाणुओं के प्रकोप को पोषित करते रहे।  तेज बढ़वार के लिए रसायनों का उपयोग करते हुए, वे फलों, पेय पदार्थों, भोजन में विषाक्त पदार्थों को डालने लगे और फिर उसे पीने लगेमृत्यु गोमांस के गहरे लाल रसीले टुकड़ों, मांसल चौड़े टुकड़ों, नरम झींगों और मछली को पकड़ने वाले चारे का रूप ले रही है। सब्जियां और फल बिना सड़े लम्बे समय तक ताजा बने रहते हैं ... ये कसाई अपना गंडासा कहां और कब चला रहे थे, किसी को पता भी नही था। अब किसी भी शहर या गाँव के बीचों-बीच कभी भी किसी के अंतिम संस्कार के समय हो रही तुरही की गमगीन आवाज़ सुनाई देती रहती है, कि आज इस युवा को, तो कल नन्हे बच्चे को अजीब खतरनाक बीमारी ने निगल लिया है। तटस्थ, निर्दयी गंडासा कभी अँधेरे में और कभी सूरज के ठीक नीचे जोरों से लहराता है। यहां और वहां, लोग दर्द से उल्टी कर रहे हैं, तड़प रहे हैं और मर रहे हैं। रसायन और प्रायोगिक औषधियाँ लाशों को ताबूत में सख्त कर देती हैं ताकि वे कभी शोक से बाहर निकल सकें। कई महीनों के बाद, मिट्टी के अस्थि कलश में चिर निद्रा के लिए ले जाने से पहले रिश्तेदार हड्डियों के टुकड़ों पर चमडा उतारने के लिए चाक़ू ले आते हैं। जबकि बिना यह सोचे कि दूसरों के कलंकित हाथों से जहर खाने के बाद कभी उसकी भी बारी आएगी, कसाई इत्मीनान से रात के खाने की मेज पर पहुंच जाता है।

 

 

 

 

कसाई 3

 

एक कसाई अपनी मृत्यु से पहले पछताता है। वह अपने गलत कामों के गवाह, अपने दोनों हाथों को एक संग्रहालय को दान करने की प्रतिज्ञा लेता है। प्रतिज्ञा उसके ताबूत में जाने से ठीक पहले की जाती है। कसाई के हाथों के दस्ताने कांच के मर्तबान के अंदर एक विशेष द्रव में भिगो दिए जाते हैं। मर्तबान कुछ मिनटों में फट जाता है। अब मर्तबान बदल दिया गया है, पर सभी मर्तबान एक-एक कर टूटते जाते हैं। अंत में, संग्रहालय के कर्मचारी एक जिंक पीपे में हाथों को डुबो कर उसे मजबूत ताले से बन्द कर देते हैं। हर रात, संग्रहालय के सुरक्षा कर्मी पीपे की संकरी झिरी कसाई के हाथों को चुपके से देखते रहते हैं, उन हाथों में घोंघे की तरह आकर बदलने वाली खूबी होती है। संग्रहालय के केंद्रीय प्रदर्शन कक्ष में, हाथ शरीर के ऊपरी भाग की ओर बढने का रास्ता खोजने की कोशिश करते हैं।

 

 

 

 

कसाई 4

 

कसाई कभी-कभी फूल के रूप में नजर आता है। वह आकर्षक रंगों और खुशबुओं  से हमें आपको सबको लुभाता है। वह आपको एक गली, एक अंधेरी या दूरदराज जगह में ले जाता है। वह

 

आपसे कहता है कि आपको मरने के लिए एक रास्ता चुनना होगा। निश्चित रूप से, आप यह सुनकर हिंसक रूप से प्रतिक्रिया देंगे, पर अंत अलग नही होने वाला है। वह रास्ता चुनने के लिए आपके सामने कई किताबें निकालकर रखता है। एक किताब जो आपको सिखाती है कि कैसे सहानुभूति से परे रहा जाये, कैसे सारे दर्द के प्रति कठोर हुआ जाये, अपनी अंतिम सांस तक आते-आते अपनी भावनाओं को कैसे खत्म किया जाए। दूसरे शब्दों में, यदि आप फूल की गंधों को अन्तस् में उतारते हैं, तो आप जीवन भर कम अक्ल समझे जाओगे, विभिन्न मूल्यों को पहचानने में नाकाबिल रहोगे। और यह आखिरी किताब आपको अपनी भावनाओं के साथ धोखा करने की तकनीक सिखाती है। कल, आप शरीर और आत्मा दोनों से निस्तेज, कठोर होते जाएंगे, तब भी आप स्वयं को हमेशा भरोसा देने की कोशिश करेंगे कि आप पवित्र और अच्छी चीजों के लिए समर्पित हैं।

 

 

 

 

कसाई 5

 

वह देर रात मेरे निवास पर लैम्प उलटते हुए तूफान बरपाते हुए पहुँचता है। वह मेरे हाथों से खुली किताब छीन लेता है और मेरे बालों को पकड़ लेता है, फिर नीचे की ओर खींचते हुए मुझे तब तक मरोड़ता है, जब तक कि मेरा चेहरा ऊपर नही हो जाता, ताकि वह नीचे झुक सके और मुझे बारीकी से जांच सके। फिर वह किताब के कवर की जांच करता है और धीरे-धीरे मुझे छोड़ देता है। शायद उसे कोई शक था? कसाई जरूर किसी व्यक्ति के शिकार पर था। वह थोड़ी देर के लिए मुझे संदेह से देखता है फिर चुपचाप चला जाता है। जब वह खूंखार आंखों और चमकदार गंडासे के साथ वापस आता है, तो उसे मैं वहां नहीं मिलता। रात मेरी कवच बन जाती है, मुझे उस भयावह कसाई के व्यवहार और चेहरे के भावों का बारीकी से देखने में मदद करती है। लेकिन वह नहीं जान पाता कि मैं कहाँ हूँ, हालाँकि इस समय मैं उसके बहुत करीब हूँ।

 

 

 

 

कसाई 6

 

विचारों के कसाई हमें सीधे रास्ते पर यात्रा करने के लिए मजबूर करते हैं और कभी भी मोड़ नहीं लेते। लेकिन प्राकृतिक दुनिया में अनगिनत झीलें, पहाड़ और झरने हैं। निर्बाध फैली हुई पृथ्वी पर बिल्कुल सीधा मार्ग हो ही नही सकता। मानव विकास हर मोड़ पर होता है और कई बार होता है, सभ्यताएं मानवता के कांटे के बीच पैदा होती हैं। कसाई इस तथ्य से परिचित हैं और इसलिए घात लगाने के लिए हमारा इंतजार करते है। वे उन लोगों को जल्दी खत्म करते हैं जो संकोची ख्यालों के होते हैं, जो धर्म पथ से हटे होते हैं। मैंने सीधे रास्ते पर उघड़े बदन वाले अनगिनत कसाइयों के जिस्म देखें हैं। स्वयं को दिलासा देते और गतिहीन, वे किलोमीटर चिन्ह के रूप में वहां खड़े होते हैं।

 

 

 

 

कसाई 7

 

वह नरक का वासी है। जीवित दुनिया में उसके उद्भव का एकमात्र निशान एक धड़ चित्र है जो उसकी स्मृति लेख पर उकेरा गया है। चित्र में, वह बिल्कुल सीधा दिखता है, चश्मे के पीछे उसकी शांत आँखें, एक तरफ कंघी किये बाल। उसके स्वेटर के बटन की सिर्फ दूसरी पंक्ति नजर आती है। उसके रक्तरंजित हाथ लंबे समय तक पृथ्वी के भीतर गहरे रेंगते रहे हैं। उसका सबसे छोटा बच्चा भी अपनी वसीयत में एक पेज गोपनीय रखता है, तीसरी पीढ़ी से पहले इसे खोलने की हिदायत के साथ। जब कब्र में लेटे हुए की जीवनी भविष्य की पीढ़ियों द्वारा बेरोक मनगढ़ंत बयान की जायेगी। जब सभ्य समाज में कसाई नही बचेंगे। तीसरी पीढ़ी अपने अच्छे कामों के बारे में कहानियां हस्तांतरित करेगी। वे कहेंगे कि अपने जीवनकाल के दौरान, वह एक दयालु और सदाचारी व्यक्ति रहा जिसने सभी जीवों से प्यार किया|

 

 

 

 

 

मेई वॉन फान (Mai Văn Phấn) 

 

वियतनाम के विशिष्ट कवि मेई वॉन फान का जन्म 1955 में उत्तर वियतनाम के रेड रिवर डेल्टा, निन्ह बिन्ह में हुआ। वर्तमान में आपहेई फांग शहर में रहते हुए काव्य सृजन कर रहे हैं। आपने कई वियतनामी और अंतर्राष्ट्रीय साहित्यिक पुरस्कार अर्जित किये हैं,जिसमें 2010 में वियतनाम राइटर्स एसोसिएशन अवार्ड और 2017 में स्वीडन का साइकडा साहित्यिक पुरस्कार शामिल हैं। मेई वानफान अपनी मातृ भाषा में लिखते हैं। आपकी 16 काव्य पुस्तकें और 1 पुस्तक "क्रिटिक्स निबंध" पर प्रकाशित हो चुकीं हैं। आपकीकविताओं का 25 भाषाओं में अनुवाद हो चुका है वे भाषाएँ हैं : अंग्रेजी, फ्रेंच, रूसी, स्पेनिश, जर्मन, स्वीडिश, डच, अल्बानियाई,सर्बियाई, मैसेडोनियन, मोंटेनेग्रिन, स्लोवाक, रुमानियाई, तुर्की, उज़्बेक, कज़ाख, अरबी, चीनी, जापानी , कोरियाई, इंडोनेशियाई,थाई, नेपाली, हिंदी और बंगाली (भारत)

 

 

 

 

नीता पोरवाल (Neetta Porwal)

 

नीता पोरवाल (15 जुलाई 1970) का जन्म उत्तर प्रेदश के अलीगढ़ शहर में हुआ| आगरा विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में परास्नातकऔर फिर बी. एड. की उपाधि लेने के बाद आप अध्यापन करने लगीं| आप एक कवि और कथाकार होने के साथ अनुवादक भी हैं|बांगला बाउल गीतों और रवीन्द्रनाथ टैगोर की कविताओं के साथ-साथ देश-विदेश के अनेक कवियों और कथाकारों की रचनाओं कोआप हिंदी में रूपांतरित कर चुकीं हैं| बतौर अनुवादक विगत कई वर्षों तक कृत्या पत्रिका के साथ जुड़ीं रहीं| 2018 में चीनीकविताओं कासौ बरस सौ कविताएँ (चीन की कविताओं में आधुनिकवाद)’ नामक चीनी कविता संग्रह आया जिसके लिए उनकीटीम को चीनी साहित्य के अनुवाद के लिए DJS Translation Award  प्राप्त हुआ है|

 

 

 

 

English version: Era of Junk

Vietnamese version: “Thời tái chế”

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 


BÀI KHÁC
1 2 3 




























Thiết kế bởi VNPT | Quản trị